Back Pain Treatment in hindi – बैक पेन का इलाज

By: Tipsdekho

2018-08

Back Pain Treatment in hindi – बैक पेन का इलाज

बीमारियां नाम से ही मनहूस लगती हैं ना ? और हम हर मुमकिन कोशिश करते हैं कि ये हमारे गले न पडें, पर आज का वक़्त ऐसा चल रहा है कि लाख जतन करने के बाद भी हम किसी ना किसी बीमारी के शिकार हो ही जाते हैं पर कई बार हार्ट अटैक। कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियां होती हैं तो कई बार माइग्रेन, पेट दर्द,सर्वाइकल पेन, बैक पेन जैसी बीमारियां घेर लेती हैं जो जान तो नहीं लेती पर जब इसका दर्द शुरू होता है तब मरीज की तड़प देखकर जान सुख जाती है। अब बैक पेन की बात करें तो जाहिर  सी बात है कमर हमारे शरीर ऐसा हिस्सा होता है जिसके सहारे ही हम पूरे शरीर का सन्तुलन बना पाते हैं, इसलिए जब कमर दर्द होता है तब सिर्फ कमर का हिस्सा ही डिस्टर्ब नहीं होता बल्कि पूरा शरीर और साथ ही हमारा सारा काम डिस्टर्ब होने लगता है । कमर दर्द की तकलीफ किसी को भी हो सकता है जिसके लिए कई कारण जिम्मेदार होते हैं इसलिए ये दर्द ज्यादा परेशान हमें शुरुआती लक्षण की जानकारी लेकर समय रहते इलाज कर लेना चाहिए । तो आइए आज हम जानते हैं कमर दर्द के कारण, लक्षण और इलाज।

कमर दर्द के कारण

  • ज्यादा देर तक बैठे-बैठे या खड़े होकर कार्य करना
  • शरीर का कमजोर होना
  • अनियमति जीवनशैली
  • नरम गदों पर सोने
  • ऑफिस या घर पर भारी वजन उठाने
  • मांसपेशियों में खिंचाव होना,

बैक पेन के मुख्य लक्षण

  • कमर में बहुत दर्द
  • उठने-बैठने के समय दर्द होना
  • सुबह उठने पर कमर दर्द तथा झुकने पर भी तेज दर्द होने जैसी स्थितियां कमर दर्द के खास सिम्पटम्स होते हैं ।

कमर दर्द से छुटकारा पाने के आसान उपाय 

  1. कमर दर्द का अचूक नुस्खा अदरक

अदरक को कमर दर्द में आराम पाने के लिए औषधि की तरह असरदायक माना जाता है।इसलिए जब भी जब भी कमर का दर्द सताए अदरक को विभिन्न तरीकों से इस्तेमाल करें जैसे कि अदरक का पेस्ट बनाकर दर्द वाली जगह पर लगायें और ऊपर से नीलगिरी का तेल लगा लें। या ताजा अदरक के 4-5 टुकड़े लें और डेढ़ कप पानी में डालकर10 से 15 मिनट के लिए हलकी आंच में उबालें। इसके बाद छानकर कुछ देर के लिए ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर पी लें। इस तरह इस पेय को प्रतिदिन पीने की आदत डालें। या फिरआधा चम्मच काली मिर्च, डेढ़ चम्मच लौंग के पाउडर और एक चम्मच अदरक का पाउडर मिलाकर हर्बल टी बनाएं और स्वाद के साथ ही दर्द से भी राहत पाएं।
दरसल अदरक में एंटी-इन्फ्लेमेटरी कंपाउंड्स होते हैं जो हमें दर्द में राहत पहुंचाते हैं।

  1.  तुलसी की पत्तियों का जादू
    एक कप पानी में 8-10 तुलसी की पत्तियां डालकर तबतक उबालें जबतक कि यह उबलकर आधा न हो जाये, और इसके ठंडा होने के बाद इसमें एक चुटकी नमक डालकर रोजाना पिएं। इससे कमर दर्द में लंबे समय के लिए आराम मिलने लगेगा।
  2. खसखस के बीज है खास
    एक-एक कप खसखस के बीज और मिश्री का पाउडर रोज सुबह शाम दो-दो चम्मच एक गिलास दूध में डालकर पिएं। यह जल्द ही आपको कमर दर्द में आराम दिलाएगा क्योंकि खसखस के बीज, कमर के इलाज में रामवाण औषधि की तरह असर करता है ।
  3. हर्बल ऑयल
    हर्बल ऑयल से कमर की मालिश करने से मांसपेशियों को आराम मिलता है और दर्द कम होता है। आप कोई भी हर्बल आयल इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे नीलगिरी का तेल, बादाम का तेल, जैतून का तेल या नारियल का तेल आदि। पहले तेल को थोड़ा गर्म कर लें और फिर धीरे-धीरे दर्द वाली जगह पर मालिश करें।
    5. लहसुन
    रोज सुबह खाली पेट लहसुन की तीन-चार कलियों का सेवन करना शुरू कर दें । इससे सिर्फ कमर को ही नहीं बल्कि शरीर के कई अहम हिस्सों को फायदा होगा । साथ ही तेल इस्तेमाल करें ऐसे में। लहसुन का तेल बनाने के लिए नारियल के तेल, सरसों के तेल या तिल के तेल में तीन लहसुन की कलियाँ डालें। अब इसे तब तक उबालें जब तक कि लहसुन की कलियाँ काली न पड़ जाएँ। अब इस तेल को छान लें और ठंडा होने दें। आपका लहसुन का तेल तैयार है, और इस लहसुन के तेल से अगर दर्द ज्यादा हो रहा हो तक मसाज करें। फौरन आराम मिलेगा।
    6. गेहूं
    रात को एक मुट्ठी गेहूं को पानी में डालकर रख दें। सुबह इस गेहूं को पानी से अलग कर लें और फिर एक गिलास दूध में डालकर गर्म करें। अब इस पेय को दिन में दो बार पिएं । दरसल गेहूं में ऐसे कंपाउंड्स पाए जाते हैं जिनका शरीर पर दर्दनिवारक प्रभाव होता है, जिससे कमर दर्द में आराम मिलता है।
    7. बर्फ
    बर्फ की ठंडी तासीर दर्द और सूजन को कम करने में कारगर उपायों में से एक है। तो जब आपको कमर में दर्द हो रहा हो तो बर्फ से सिकाई करें इससे थोड़ी देर के लिए वह हिस्सा सुन्न भी कर देगा और आपको आराम महसूस होगा। या बर्फ को कूटकर एक कपड़े में बांध लें और इसे दर्द वाली जगह पर 10 से 15 मिनट के लिए रख दें। ऐसा इसे हर दो घंटे में दोहराएँ। आपको जल्द ही दर्द से छुटकारा मिलता महसूस होगा।
  4. सेंधा नमक
    सेंधा नमक में पानी डालकर गाड़ा पेस्ट तैयार करें। अब इसे एक कपड़े में डालकर निचोड़ दें जिससे बचा हुआ पानी भी बाहर निकल जाये। अब इस पेस्ट को अपनी कमर में लगा लें।
    सेंधा नमक दर्द को कम करता और इन्फ्लामेशन में राहत प्रदान करता है।
    9. कैमोमाइल टी
    एक चम्मच कैमोमाइल को एक कप पानी में 10 मिनट के लिए उबालें। अब इसे छानकर पी लें। रोज इस चाय को दो बार सेवन करें। यह इतना असरदार होता है कि एक कप हॉट कैमोमाइल मांशपेशियों की ऐंठन को ठीक करने के लिए काफी होती है।
  5. दूध
    दूध कैल्शियम का स्रोत है जो हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाये रखने में मदद करता है। शरीर में कैल्शियम की कमी के कारण भी कमर दर्द की समस्या होती है। इसलिए दूध का नियमित रूप से सेवन करें। और यदि मीठे की जरूरत महसूस हो तो शहद मिलाकर पिएं।

    नुस्खों को अपनाने के साथ ही इस बात का भी ध्यान दें कि नरम गद्दीदार आसान छोड़कर सख्त कुर्सी या तख़्त पर सीधे बैठने की आदत अपनाएं। सोने के लिए तख़्त का इस्तेमाल करें। तभी ज्यादा बेहतर असर महसूस होगा।

 

Shear this
View all

Most Popular Video

Most Popular Articles